पीएम मोदी ने ड्रोन से लिया केदारनाथ में चल रहे निर्माण कार्यों का जायजा

पीएम मोदी ने कहा कि छोटे धार्मिक स्थलों को केदारनाथ की ऐतिहासिकता से संबंधित किया जाए। https://touroxy.com/blog/national-pm-modi-inspected-construction-work-in-kedarnath-by-drone पीएम मोदी ने ड्रोन से लिया केदारनाथ में चल रहे निर्माण कार्यों का जायजा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ड्रोन के जरिए केदारनाथ में चल रहे कार्यों का मुआयना किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि इस समय केदारनाथ धाम में निर्माण कार्य तेजी से किए जा सकते हैं, जो सबसे आवश्यक कार्य हैं उन्हें चिह्नित कर पहले पूरा किया जाए। पीएम मोदी ने कहा कि बदरीनाथ धाम के लिए भी डेवलपमेंट प्लान बनाया जाए। यह प्लान अगले 100 साल तक की परिकल्पना के हिसाब से बनना चाहिए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए केदारनाथ में चल रहे कार्यों का जायाजा लिया। इस दौरान पीएम मोदी ने ड्रोन से धाम में चल रहे विभिन्न कार्यों को देखा। उन्होंने केदारनाथ मंदिर परिसर, आदिगुरु शंकराचार्य की समाधि, सरस्वती घाट और आस्था पथ, भैरव मन्दिर के रास्ते पर बने पुल, केदारनाथ में बन रही गुफाओं, मंदाकिनी नदी पर बन रहे पुल, मंदाकिनी और सरस्वती के संगम पर बन रहे घाटों के निर्माण कार्यों के संबंध में जानकारी ली।

Google Maps पर अभी किसकी आवाज?

पीएम मोदी ने कहा कि रामबाड़ा से केदारनाथ तक छोटे-छोटे धार्मिक स्थलों को केदारनाथ की ऐतिहासिकता से संबंधित किया जाए, जिससे श्रद्धालुओं को केदारनाथ के ऐतिहासिक और पौराणिक महत्व के बारे में भी रोचक जानकारियां उपलब्ध हो सके। इस क्षेत्र में आध्यात्म से संबंधित भी कई कार्य किए जा सकते हैं। इस ओर भी ध्यान देना चाहिए। इससे श्रद्धालुओं को केदारनाथ के दर्शन के साथ ही यहां से जुड़ी हुई धार्मिक और पारंपरिक महत्व के बारे में भी जानकारी मिलेगी। केदारनाथ के आस-पास जो गुफाएं निर्मित की जा रही हैं, उन्हें सुनियोजित तरीके से बनाया जाना चाहिए, जिससे इनका स्वरूप आकर्षक हो।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रधानमंत्री से निवेदन किया कि केदारनाथ में विभिन्न निर्माण कार्यों के लिए राज्य को लगभग 200 करोड़ की धनराशि की आवश्यकता होगी। उन्होंने बताया कि राज्य के लोगों के लिए सीमित संख्या में भगवान केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के दर्शन के लिए अनुमति दी गई है। मास्क का उपयोग, सामाजिक दूरी का पालन करते हुए एक दिन में अधिकतम 800 लोग दर्शन लाभ ले सकते हैं।

जाने क्या है -Aapki Online Dukaan

बैठक में मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने केदारनाथ में चल रहे विभिन्न निर्माण कार्यों की विस्तार से जानकारी पीएम मोदी को दी। उन्होंने कहा कि आदिगुरु शंकराचार्य की समाधि के पुनर्निर्माण का काम 31 दिसंबर तक 2020 तक पूरा हो जाएगा। सरस्वती घाट का कार्य जल्द पूरा हो जाएगा, यह कार्य 30 जून तक पूर्ण हो जायेगा। भैरव मंदिर के रास्ते पर पुल के निर्माण का कार्य पूरा हो चुका है, यह कार्य निर्धारित समयावधि से पहले ही पूरा कर लिया गया है।

तीर्थ पुरोहितों को रहने के लिए पांच ब्लॉकों में घर बनाऐ जा रहे हैं, जिसमें से दो ब्लॉकों में बनाए जा चुके हैं, शेष ब्लॉकों में कार्य सितंबर तक पूरा हो जाएगा। केदारनाथ में आध्यात्म की दृष्टि से तीन गुफाओं का निर्माण किया जा रहा हैं, जो इस साल सितंबर तक पूरा हो जाएगा। मंदाकिनी नदी पर बन रहे पुल का कार्य अगले साल 31 मार्च पूरा हो जाएगा। उन्होंने बताया कि केदारनाथ में ओपन म्यूजियम बनाने की योजना भी बनाई जा रही है। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव ओम प्रकाश, सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर भी उपस्थित थे।

 

Signup for Free Website

Discovery

Our team explores the best opportunities available. They handpick the most unique, unknown & also local experiences from authentic operators.

Bookability

Our team explores the best opportunities available. They handpick the most unique, unknown & also local experiences from authentic operators.

Delightful Customer Experience

Our team explores the best opportunities available. They handpick the most unique, unknown & also local experiences from authentic operators.

20 Lakh+

Travelers monthly visiting us

65+

Destinations served worldwide

650+

Network of expert travel agents

97%

Positive quotient by travelers